पत्नी व बेटे की गला रेट कर हत्या, खुद ने किया आत्महत्या का प्रयास

पत्नी व बेटे की गला रेट कर हत्या, खुद ने किया आत्महत्या का प्रयास

पत्नी व बेटे की गला रेट कर हत्या, खुद ने किया आत्महत्या का प्रयास

WhatsApp Group Join Now

गाजियाबाद कवि नगर थाना क्षेत्र के महेंद्र एनक्लेव में एक कारोबारी ने पत्नी और बेटे की गला रेट कर हत्या कर दी कारोबारी ने खुद को भी धारदार हथियार से गला रेत कर आत्महत्या का प्रयास किया घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला और उसके बेटे का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. वहीं घायल कारोबारी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

डीपी सिटी ज्ञानेजय सिंह ने बताया कि 42 वर्षीय अमरदीप ग्रॉसरी स्टोर के संचालक हैं और वह गाजियाबाद आए हुए थे. बृहस्पतिवार को अमरदीप की चाची जब घर पहुंची तो उन्होंने देखा कि घर का दरवाजा अंदर से बंद है. उन्होंने जब घर में प्रवेश किया तो वहां उन्होंने देखा कि अमरदीप उसकी पत्नी और उसका बेटा खून से लथपथ पड़े हुए हैं जिसको देखकर वह चीखती हुई घर से बाहर निकली और पड़ोसियों को इसके बारे में बताया इस घटना की जानकारी पुलिस को दी. मौके पर पहुंचे पुलिस ने पत्नी सोनू और बेटे विनायक का पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है वहीं अमरदीप को इलाज के लिए इलाज अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

विज्ञापन
Slide
Slide
Slide
Slide
previous arrow
next arrow

डीपी सिटी ज्ञानेजय सिंह ने बताया कि पुलिस को घर से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसमें अमरदीप ने कर्ज होने की बात कही है. फिलहाल पुलिस अमरदीप के होश में आने की प्रतीक्षा कर रही है.

कर्ज से परेशान था परिवार

यह प्रकरण कविनगर के लोगों के बीच में चर्चा का विषय बना हुआ है बताया जा रहा है कि कारोबारी पर कर्ज के लिए कर्जदार लगातार दबाव बना रहे थे. जिसके बाद यह घटना सामने आई है. इस दर्दनाक हादसे में सोनू और विनायक की मौत हो चुकी है. दोनों के गले पर धारदार हथियार से वार कर उनकी हत्या की गई है. जबकि अमरदीप ने अपने गले को भी धारदार हथियार से रेता है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार अमरदीप के बड़े भाई नवदीप हिमाचल के ऊना में रहते हैं और आज दोपहर उन्होंने अपने भाई से फोन पर बात करते हुए उनका फोन कट गया था. इस दौरान नवदीप ने कई बार अपने भाई के फोन को मिलाया, लेकिन फोन पिक नहीं हुआ इसके बाद नवदीप ने अपनी चाची को फोन कर अमरदीप के घर जाने को कहा. 

रिकवरी के लिए आए थे एजेंट

बताया जा रहा है कि आज लोन रिकवरी के लिए कुछ लोग अमरदीप के घर आए हुए थे इस दौरान अमरदीप के द्वारा घर का मुख्य दरवाजा नहीं खोले जाने पर वह लोग वापस लौट गए थे लोन रिकवरी के लिए एजेंट लगातार अमरदीप पर दबाव बना रहे थे.

WhatsApp Group Join Now